Fundamental of computer in hindi | कंप्यूटर का मूल सिद्धांत

Fundamental of computer का हिन्दी में मतलब है  >   ( कंप्यूटर का मूल सिद्धांत )

Computer का परिचय

Computer शब्द Latin भाषा के compute + r से मिलकर बना है । compute का परायेवची शब्द है calculate । जिसका मतलब है गणना करना ।

जिस प्रकार use का मतलब होता है प्रयोग करना और user का मतलब प्रयोग करने वाला । उसी प्रकार compute का मतलब होता है गणना करना और computer का मतलब गणना करने वाला यंत्र । जिसका अविस्कार गणना करने के लिए किया गया था । लेकिन इसका काम अब उतना तक ही सीमित नहीं रह गया है ।  computer हमारे जिंदगी का एक महत्वपूर्ण हिषा बन गया है ।

कंप्यूटर क्या है?

कंप्यूटर एक  बिजली के द्वारा चलाया जानेवाला , या हम कह सकते है कंप्यूटर एक Electronic device है।  यह एक ऐसा आधुनिक यंत्र है
जो हमारे अनेक कार्यो को बहुत तेजी से और सरलता से पूर्ण करता है। यह हमारे जिंदगी का महत्वपूर्ण हिषा बन गया है । जैसे Laptop , Mobile, calculator , watch , thermometer

कंप्यूटर की परिभाषा 

  • Computer is an electronic device . which are able to receive the data through input device and convert into the information

कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है। जो इनपुट डिवाइस के माध्यम से डेटा प्राप्त करने और सूचना में परिवर्तित करने में सक्षम हैं

  • Computer is an electronic device . which perform all the arithmetic mathematical and logical operations.

कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है। जो सभी अंकगणितीय गणितीय और तार्किक संचालन करते हैं।

  • Computer is an electronic device. Which accept all the data as input device and process it according to software or program and show us the result as output device .

कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है। जो सभी डेटा को इनपुट डिवाइस के रूप में स्वीकार करते हैं और इसे सॉफ्टवेयर या प्रोग्राम के अनुसार प्रोसेस करते हैं और हमें आउटपुट डिवाइस के रूप में परिणाम दिखाते हैं।

Computer को दो भागो में बाटा गया है –

1. Hardware

2. Software

हार्डवेयर

कंप्यूटर के ऐसे parts जिन्हें हम छू सकते है, उन्हें physical components कहा जाता है। जैसे की कीबोर्ड, माउस, रेम आदि को हार्डवेयर कहा जाता है।
यह दो प्रकार के होते है Internal और External हार्डवेयर।

सॉफ्टवेयर

कंप्यूटर सॉफ्टवेयर को हम छू नहीं सकते है। केवल GUI के माध्यम से उन्हें देख सकते है और कंप्यूटर हार्डवेयर की सहायता से उसे चला सकते है।
इसकी मदद से हम अपने कार्य को आसानी से पूरा कर सकते है।

कंप्यूटर कैसे काम करता है? – How does computer work?

Input > process > output

कंप्यूटर में जब कीबोर्ड या माउस के द्वारा जब कोई इनपुट देते है तब वह processor के द्वारा process करके तब हमें आउट्पुट के रूप में रिजल्ट दे देते है । 

Hardware को चार भागो में बाटा गया है –

  1. Input device
  2. Output device
  3. Processor device
  4. Memory

input 

जिस device के द्वारा हम computer को input देते है । या कहे तो जिस डिवाइस के द्वारा हम computer को Instruction देते है  जैसे  Mouse या Keyboard उस डिवाइस को इनपुते डिवाइस कहा जाता है ।

output device 

जिस डिवाइस के द्वारा हमें computer से  इनपुट और प्रोससेस करने के बाद रिजल्ट मिलता है उस डिवाइस को Input device कहा जाता है ।

Processor : computer में process करने के लिए processor लगा रहता  है  उसे CPU भी कहा जाता है ।

Storage : 

Result को Hard Disk या अन्य मीडिया डिवाइस में स्टोर करता है।

Software :

निर्देशों के समूह को प्रोग्राम कहते है और प्रोग्रामों के समूह को Software कहते है ।

Software को दो भागों में बाँटा जाता है

  1. Application software
  2. System software

System software System software वह program होता है जो computer hardware से सीधे संभानधित होते है ।

Application Software : Application software वह program होता है जो उपयोगकर्ता की सहायता से कोई विशेष कार्य करते है ।

ADVANTAGE OF COMPUTER

  1.  Multitasking
  2. Speed : ghz
  3. Accuracy सुधता
  4. Easy communication
  5. Data security

DISADVANTAGE OF COMPUTER

  1. Virus
  2. Hacking
  3. Online cybercrime
  4. Computer can not think
  5. Computer can not filling
  • computer के पिता Charles babes को कहा जाता है । 
  • word का पहला computer defense engine को कहा जाता है । जो की 1837 ईस्वी में बनाया गया था । 
  • computer केवल बाइनरी लैंग्वेज को समझते है । 
    बाइनरी Number 0 और 1 को कहा जाता है । 
  • एक एकल बाइनरी Number को bit कहा जाता है । 
  • 8 bit के एक समूह को बाइट कहा जाता है । 
  • बाइनरी नंबर की खोज Gott Fried lienees ने किया था । 
  • Transistor के समूह को IC कहा जाता है । 
  • IC के समूह को Micro processor कहा जाता है । 

This Post Has One Comment

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.